छात्र समाज के सबसे जागरूक वर्ग होने के साथ ही राष्ट्र की ताकत है

रक्सौल डेली : युवा सहयोग दल के तत्वाधान  में शbnहर स्थित हजारीमल हाई स्कूल में रविवार को छात्र संसद का आयोजन किया गया .कार्यक्रम के दौरान सैकड़ो छात्रो ने अपने विचार खुले रूप से व्यक्त किया.कार्यक्रम की शुरुआत छात्र संसद के अध्यक्ष चंद्रभूषण गुप्ता ने संसद की कार्यवाही को आगे बढ़ाते हुए इसके नियम व बताया तथा  सभी को अनुशासन मर्यादित शब्दों में अपने विषय को रखने का आग्रह किया .छात्र  समाज के  सबसे जागरूक वर्ग होने के साथ ही राष्ट्र की ताकत  है पर वर्तमान में युवाओं के समक्ष सबसे बड़ी समस्या अपनी प्रतिभा ,कौशल के समायोजन का  है .उक्त बातें प्रोफ़ेसर डा० अनिल कुमार सिन्हा ने छात्र संसद को संबोधित करते हुए कही .उन्होंने  ने कहा कि एश की स्वतंत्रता के बाद से ही शिक्षा क्षेत्र में बदलाव के लिए शोध ही होते रहे पर स्थिति है कि जनसँख्या के अनुपात में न तो कालेज एवं स्कूलों  की संख्या बढ़ी बल्कि जो चल रहे है उनकी हालत बद से बदतर है जहाँ मूल कार्य पठन-पाठन लगभग समाप्ति की ओर है कार्यक्रम  का उद्घाटन प्रोफ़ेसर डा० अनिल कुमार सिन्हा ,प्रो० मनीष दूबे ,गुड्डू सिंह ,प्रो० डी.के श्रीवास्तव,स्वच्छता सिपाही सुरेश कुमार ,ई० जीतेन्द्र कुमार ,राजकिशोर राय भगत एवं दल के अध्यक्ष सुमित कुमार ने दीप प्रज्वलित कर किया .दल के अध्यक्ष सुमित कुमार ने कहा कि अति पिछड़ा क्षेत्र रक्सौल शैक्षिक दृष्टि से भी अत्यंत पिछड़ा हुआ है . कालेज से लेकर माध्यमिक ,प्राईमरी शिक्षा की दयनीय स्थिति के कारन छात्र बाहर जाने को बाध्य है .  छात्र संसद के द्वारा हम राजनेताओं ,बिहार सरकार एवं प्रशासनिक अधिकारियोंको उनके अपने बावी पीढ़ी के प्रति जिम्मेवारी ,कर्तव्य एवं सही कार्यान्वन हेतु आगाह करना चाहते है .संसद में स्थानीय  के० सी० टी० सी० कालेज के वर्तमान प्राचार्य को कालेज में छात्रों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए उनके द्वारा किये गये  प्रयास के लिए धन्यबाद दिया गया . इस दौरान  नीरज कुशवाहा ,राज वर्मा ,प्रकाश श्रीवास्तव ,सजन कुमार ,विकास श्रीवास्तव , घनश्याम गुप्ता ,अजित कुमार ,अनुज कुमार ने महविद्यालय में पठन-पाठन के साथ खेल कूद ,कम्पूटर ,शौचालय ,मूत्रालय ,बॉयज कामन रूम ,पुस्तकालय ,प्रयोगशाला की मांग के साथ कालेज को हाईटेक बनाने की मांग की . वहीँ हर्षित रौनियार ,अनिकेत पॉल ,राजन ठाकुर ,राज पटवा ,अमित केशरी ,राज कुमार आदि ने रक्सौल के महाजाम ,सरिसवा नदी के प्रदूषण ,विकास कार्य में हो रहे अनियमितता के विरुद्ध निर्णायक आन्दोलन छेड़ने की बात की . उनलोगों ने कहा कि पठन-पाठन के लिए सही वातावरण की आवश्यकता होती है जिसका इस सीमाई एवं सामरिक दृष्टि से अति महत्व रक्सौल में घोर अभाव है . इन कमियों को दूर करने के लिए युवा वर्गों को आगे आकर राजनेताओं एवं प्रशासनिक अधिकारियों को बाध्य कर सुधार करवाना होगा . स्कूल की समस्याओं पर बोलते हुए राहुल गुप्ता ,उदय कुशवाहा,राज चौरसिया ,रवि रंजन ,सरफरोज आलम ,सरफराज ,अमन कुमार ,बादल ,नविन श्रीवास्तव आदि ने कहा कि स्कूल में पढाई नहीं होती है ,हर कार्य के लिए छात्रों से अवैध पैसा वसूला जाता है . न तो खेल कूद की कोई व्यवस्था है ,न ही प्रयोगशाला है . संसद में उठे विषयों को बिहार के शिक्षा मंत्री ,मुख्य मंत्री ,कुलाधिपति ( राजपाल ,बिहार ) ,कुलपति ,बी० आर० ए० बिहार विश्यविद्यालय के कुलपति ,प्राचार्य ,के० सी० टी० सी० कालेज ,सभी प्रधानाध्यपक ,अनुमंडल के सभी हाई स्कूलों को भेजने का निर्णय लिया गया | संसद की कार्यवाही  को देखने के लिए दुर्गेश साह ,मुन्ना गुप्ता,शैलेश गुप्ता,राकेश पटेल,विशाल सिंह,मनोज श्रीवास्तव आदि उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>