दुनिया से जाने वाले जाने चले जाते है कहां ,स्वर्गीय रामनाथ प्रसाद को दी गयी श्रध्दांजलि

896

रक्सौल पोस्ट ऑफिस रोड स्थित रामजानकी मंदिर परिसर में नटराज सेवा संगम रक्सौल के तत्वधान में बुधवार को शोकसभा का आयोजन किया गया . इस दौरान दिवंगत के तैलय चित्र पर माल्यर्पण कर भावभीनी श्रध्दांजलि दी गयी .उसके बाद नटराज सेवा संगम के सदस्यों ने दिवंगत के आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन रख कर प्रार्थना की.वहीँ अध्यक्ष ओमप्रकाश गुप्ता ने कहा कि स्वर्गीय रामनाथ प्रसाद ने समाज को हास्य कलाकार के क्षेत्र में एक नयी स्थान स्थापित की थी .वे अपनी हास्य कला से लोगों का मन जित लेते थे तथा उनकी बोली पर लोग अक्सर ठहाके लगाते थे .वे समाज के हर वर्ग से जुड़े थे .जबकि भरत प्रसाद आर्य  ने कहा किरामनाथ जी के बताये मार्ग पर चलने की जरुरत है.उन्होंने जीवन में हसने हसाने की कसम खायी थी तथा लोगों को हसने हसाने का काम अंतिम दिनों तक करते रहे .भरत प्रसाद गुप्त ने कहा कि समूहिक विवाह में उन्होंने  महत्वपूर्ण भूमिका निभायी तथा कई जोड़े वर वधुओं को एक एक दुसरे से मिलाकर पुन्य का काम किया था . उन्होंने भजन के माध्यम से रक्सौल वासियों में इश्वर के प्रति आस्था स्थापित की थी . इस दौरान एनी लोगों ने भी अपने अपाने विचार व्यक्त किये .मौके पर जगदीश प्रसाद, मोहन भाई ,बैजू जायसवाल , श्यामा प्रसाद ,नरायण प्रसाद, मदन प्रसाद , जय कुमार अजय ,कन्हैया कुमार ,धीरज कुमार ,पंकज कुमार ,मनोज कुमार ,मिडिया प्रभारी दुर्गेश कुमार , सन्नी पटेल ,दीपक कुमार ,राजेश  आर्य ,सुशिल सारी ,ऋषि कुमार ,सूरज कुमार ,पूरण पटेलटी सभी गणमान्य लोग उपस्थित थे .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>