दहेज़ प्रथा व बाल विवाह करुतियों को दूर करने के लिए रक्सौल वासियों ने दिखायी एकजुटता

pl

दहेज़ प्रथा व बाल विवाह कुरूतियों को दूर करने के लिए रक्सौल वासियों ने दिखायी एकजुटता .मानव श्रृंखला बना सामाजिक सदभाव को पेश की मिसाल .रक्सौल व आसपास के इलाकों में दहेज प्रथा को जड़ से मिटाने के लिए रक्सौल की जनता मुख्य सड़क पर एक जुट होकर मानव श्रृंखला बनाकर सामाजिक सदभाव बनाने के लिए मिशाल पेश की .कड़ाके की   ढंड और घने कुहासे के बीच बडी संख्या में लोगों ने मानव श्रृख्ला में भाग लिया.दहेज प्रथा बाल विवाह के खिलाफ मानव श्रृंखला में  डीएसपी राकेश कुमार ,एसडिओं श्री प्रकाश ,जदयू के जिला उपाध्यक्ष एहतेशाम , प्रमोद सिन्हा ,जदयू नगर अध्यक्ष सुरेश कुमार ,डॉ प्रो अनिलकुमार सिन्हा , पूर्व नरकटिया विधायक श्याम बिहारी प्रसाद ,प्रमुख मुन्ना सिन्हा ,राजकिशोर राय उर्फ़ भगत जी ,इंडो नेपाल चैम्बर ऑफ़ कामर्स के राजकुमार गुप्ता , कृष्णा गुप्ता  ,महेश अग्रवाल ,अशोक अग्रवाल मुख्य पथ  पर मानव श्रृंखला में शामिल हुए। जगह-जगह गणमान्य लोग शामिल हुए तथा  मानव श्रृंखला को सफल बनाने में योगदान दिया। शहर के सभी सड़कों पर स्कूली बच्चें एक साथ  लाइन में खड़े दिखे .डीएसपी राकेश कुमार ने  कहा कि दहेज प्रथा और बाल विवाह समाज के लिए कलंक है इसे मिटाना सब का सामूहिक दायित्व बनता है . आम लोगों के सहभागिता के लिए बधाई दिया है…। जदयू जिला उपाध्यक्ष एहतेशाम ने  कहा कि बालविवाह और दहेज रुपी कुरीति के खिलाफ आम लोगों में रोष है तथा लोग इस कुरीति से मुक्ति चाहते है .जिसका परिणाम है कि बडी संख्या में लोगों ने मानव श्रृंखला में भाग लिया है. वहीं समाजसेवी अशोक अग्रवाल ने कहा कि दहेज की सबसे अधिक खामियाजा महिलाओं को उठाना पडता है. इस कुरीति को खत्म करने के राज्य सरकार के पहल की चारों तरफ सराहना हो रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>